Makar Sankranti Wishes in Sanskrit Language

Makar Sankranti Wishes in Sanskrit Language

Makar Sankranti Wishes in Sanskrit Language. Best Makar Sankranti Sanskrit Status, Quotes,SMS, Messages in Sanskrit with meaning. यहाँ आप संस्कृत भाषा में मकर संक्रांति की शुभकामनायें पढेंगे. आपको और आपके परिवार को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनायें. मकर संक्रांति बहूत ही अच्छा पर्व है, जो पूरे भारत में पूरे हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है.

मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।

आशासे यत् मकरसंक्रांतिशुभाशयाः
भवतु मङ्गलकरम् अद्भुतकरञ्च ।
जीवनस्य सकलकामनासिद्धिरस्तु।

मकरसंक्रमण उत्सवस्य शुभाशयाः।

मकरसंक्रमण आशास्महे नूतनहायनागमे
भद्राणि पश्यन्तु जनाः सुशान्ताः ।
निरामयाः क्षोभविवर्जितास्सदा
मुदा रमन्तां भगवत्कृपाश्रयाः

‘यथा भेदं’ न पश्यामि शिवविष्ण्वर्कपद्मजान्।
तथा ममास्तु विश्वात्मा शंकर: शंकर: सदा।।

अत्यद्भुतं ते भवतु अग्रिमं वर्षम्

आपृच्छस्व पुराणम् आमन्त्रयस्व च
नवम् आशा-सुस्वप्न-जिगीषाभिः।

मकरसंक्रांतिशुभाशयाः

भास्करस्य यथा तेजो मकरस्थस्य वर्धते।
तथैव भवतां तेजो वर्धतामिति कामये।।

वतु प्रीणातु च त्वां भक्तवत्सलः ईश्वरः ।
मकरसंक्रांतिशुभाशयाः

मकरसंक्रांतिशुभाकाङ्क्षाः

तिलवत् स्निग्धं मनोऽस्तु
वाण्यां गुडवन्माधुर्यम्।
तिलगुडलड्डुकवत्
सम्बन्धेऽस्तु सुवृत्तत्त्वम्।।

मकरसंक्रमण उत्सवस्य शुभाशयाः।

Makar Sankranti Wishes in Sanskrit with meaning

तिलवत् स्निग्धं मनोऽस्तु वाण्यां गुडवन्माधुर्यम्।
तिलगुडलड्डुकवत् सम्बन्धेऽस्तु सुवृत्तत्त्वम्।।
भावार्थः
मकर संक्रांति पर तिल समान हम सभी के मन स्नेहमय हो, गुड़ समान हमारे शब्दों में मिठास हो और जैसे लड्डू में तिल और गुड़ कि प्रबल घनिष्ठता है वैसे हमारे संबंध हो।

Makar Sankranti Status in Sanskrit

‘यथा भेदं’ न पश्यामि शिवविष्ण्वर्कपद्मजान्।
तथा ममास्तु विश्वात्मा शंकर: शंकर: सदा।।
भावार्थः
‘मैं शिव एवं विष्णु तथा सूर्य एवं ब्रह्मा में अन्तर नहीं करता, वह शंकर, जो विश्वात्मा है, सदा कल्याण करने वाला है। दूसरे शंकर शब्द का अर्थ है – शं कल्याणं करोति।

Makar Sankranti Quotes in Sanskrit

भास्करस्य यथा तेजो मकरस्थस्य वर्धते।
तथैव भवतां तेजो वर्धतामिति कामये।।
भावार्थः
जैसे मकरराशी में सूर्य का तेज बढता है, उसी तरह आपके स्वास्थ्य और समृद्धि की हम कामना करते हैं।

Makar Sankranti SMS in Sanskrit

सत्यं ब्रूयात् प्रियम् ब्रूयात् ब्रूयात् सत्यमप्रियम्।
प्रियम् च नानृतं ब्रूयादेष धर्मः सनातनः।।
मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।
भावार्थः
सत्य बोलना चाहिए और प्रिय बोलना चाहिये। अप्रिय सत्य नहीं बोलना चाहिये और प्यारा झूठ भी नहीं बोलना चाहिये। यही सनातन धर्म है। मकर संक्रांति की शुभकामनाएं।

Makar Sankranti Messages in Sanskrit

माघे मासे महादेव: यो दास्यति घृतकम्बलम।
स भुक्त्वा सकलान भोगान अन्ते मोक्षं प्राप्यति।।
भावार्थः
मकर संक्रांति के दिन जो व्यक्ति कम्बल और शुद्ध घी को दान के रूप में देता है वह व्यक्ति अपने जीवन-मरण के सम्बन्ध से मुक्त होने के बाद अर्थात् अपनी मृत्यु के पश्चात मोक्ष को प्राप्त करता है।

Makar Sankranti Shayari in Sanskrit

सहस्रकिरणोज्ज्वल। लोकदीप नमस्तेऽस्तु नमस्ते कोणवल्लभ।।
भास्कराय नमो नित्यं खखोल्काय नमो नमः। विष्णवे कालचक्राय सोमायामिततेजसे।।

भावार्थः
हे देवदेवेश! आप सहस्र किरणों से प्रकाशमान हैं। हे कोणवल्लभ! आप संसार के लिए दीपक हैं, आपको हमारा नमस्कार है। विष्णु, कालचक्र, अमित तेजस्वी, सोम आदि नामों से सुशोभित एवं अंतरिक्ष में स्थित होकर सम्पूर्ण विश्व को प्रकाशित करने वाले आप भगवान भास्कर को हमारा नमस्कार है।

Makar Sankranti Lines in Sanskrit

नमोऽसत विद्यावितताय चक्रिणे।
समस्तधीस्थानकृते सदा नमः।।

भावार्थः
जो समस्त विद्याओं के आश्रय, चक्रधारी तथा समस्त ज्ञानेन्द्रियों को व्याप्त करके स्थित हैं (यहां ब्रहमा जी का सर्वव्यापक स्वरूप वर्णित है), उन ब्रहमा जी को सदा नमस्कार है।

Makar Sankranti 2021 Wishes in Sanskrit

उद्यमेन हि सिद्धयन्ति कार्याणि न मनोरथैः।
न हि सुप्तस्य सिंहस्य प्रविशन्ति मुखे मृगाः।।
मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।

भावार्थः
कार्य परिश्रम से ही पूर्ण होते हैं, मन में सोचने से नहीं। जैसे सोते हुए सिंह के मुख में हिरण नहीं आते हैं। मकर संक्रांति की शुभकामनाएं।

अष्टादशपुराणेषु व्यासस्य वचनद्वयम्।
परोपकारः पुण्याय पापाय परपीडनम्।।
मकरसंक्रांतिशुभाशयाः।

भास्करस्य यथा तेजो मकरस्थस्य वर्धते।
तथैव भवतां तेजो वर्धतामिति कामये।।
मकरसंक्रांन्तिपर्वणः सर्वेभ्यः शुभाशयाः।